Insurance ke prakar – Insurance कितने प्रकार के होते है

/
/
/
85 Views

इनश्योरेंस यानी बीमा, वित्तीय नियोजन की एक आधारशिला जिसमे आपको, आपके आश्रितों और आपकी संपत्ति को किसी दुर्भाग्यपूर्ण घटना की स्थिति में होने वाले वित्तीय नुकसान के लिए सुरक्षित रखता है, इस पोस्ट में आप जानेंगे insurance ke prakar के बारे में।

बीमा की अवधारणा बहुत ही सरल है इसने आप बीमाकर्ता को प्रीमियम नामक एक निश्चित राशि का भुगतान करते हैं जो बदले में एक कवरेज प्रदान करता है और नुकसान के लिए पूर्व-निर्धारित राशि का भुगतान करता है।

आपके बीमा कवर के आधार पर इनश्योरेंस को जीवन बीमा और सामान्य बीमा के रूप में बाँटा गया है। यहा पर आपको इन दोनों प्रकार के बीमा और उनके विभिन्न पहलुओं की व्याख्या विस्तार से मिलेगी।

Insurance kitne prakar ke hote hai

यहा पर इनश्योरेंस से सम्बंधित नीचे दिए गये हर सवाल का विस्तार पूर्ण जवाब इस लेख में दिया गया है जैसे —

  • Bima ke prakar or Insurance ke prakar इंश्योरेंस कितने प्रकार के होते हैं?
  • Whole life insurance, term insurance kya hai
  • Life insurance types OR life insurance kitne prakar ke hote hai
  • Health insurance kya hai, Insurance ke prakar, health insurance definition

जीवन बीमा (Life Insurance) क्या है?

life Insurance kitne prakar ke hote hai

जीवन बीमा सबसे ज़रूरी वित्तीय साधनों में से एक साधन है जो आपके परिवार को वित्तीय रूप से स्वतंत्र रहने, ऋण के रूप में ली गई देनदारियों को दूर करने, जीवनशैली को बनाए रखने और जीवन के ज़रूरी लक्ष्यों को सही रास्ते पर बनाए रखने में मदद करता है।

जीवन बीमा में, बीमा पॉलिसी अवधि के भीतर पॉलिसीधारक की समय से पहले निधन के मामले में, बीमा कंपनी नामित व्यक्ति के परिवार को बीमा राशि का भुगतान करती है।

जीवन बीमा के प्रकार —

1. संपूर्ण जीवन बीमा –

यह बीमा योजना आपको पूरे जीवन के लिए एक कवरेज प्रदान करती है। ऐसी योजनाओं के लिए बीमा पॉलिसी की अवधि 100 साल तक होती है और जब तक प्रीमियम का भुगतान किया जाता है, तब तक पॉलिसी का लाभ बना रहता है। यदि कोई जीवन भर के लिए इस बीमा योजना को बरकरार रखना चाहता हैं तो संपूर्ण जीवन बीमा यानी Whole Life Insurance योजना लेना एक बहुत अच्छा विकल्प है।

Read Also  Insurance kya hota hai : भीमा कितने प्रकार के होते है
2. टर्म जीवन बीमा –

टर्म जीवन बीमा, एक शुद्ध सुरक्षा योजना है जो की एक सस्ती प्रीमियम पर एक बड़ा कवरेज प्रदान करती है। Term Insurance में बीमा पॉलिसी की तय अवधि के भीतर बीमा धारक के निधन के मामले में सुनिश्चित राशि का भुगतान बीमा कंपनी द्वारा किया जाता है। प्राप्त बीमा राशि बीमा धारक के परिवार को उनके दैनिक खर्चों को पूरा करने और ऋण का भुगतान करने में मदद करती है। टर्म प्लान किसी व्यक्ति की वार्षिक आय की 15-20 गुना राशि का बीमित राशि चुनने की सुविधा देता है।

3. बंदोबस्ती की योजना –

बंदोबस्ती की योजना, किसी एक उत्पाद में निवेश और बीमा की योजना है जो जीवन को कवर करने के साथ-साथ आवश्यक जीवन लक्ष्यों के लिए काम आती है। इस योजना में प्रीमियम का एक निश्चित हिस्सा बीमित राशि के रूप में जाता है, जबकि बाकी हिस्से को कम जोखिम वाले रास्ते यानी किसी व्यापार में निवेश किया जाता है।

बीमा पॉलिसी की अवधि के दौरान बीमाकर्ता के निधन के मामले में, बीमकर्ता के नॉमीनी को बीमा की राशि प्राप्त होती है। यह बंदोबस्ती योजना, बीमा और निवेश दोनो की जरूरतों को एक साथ पूरा करती है।

4. मनी-बैक नीति –

इस योजना में बीमा पॉलिसी की अवधि के दौरान पूर्व-निर्धारित अंतराल पर एक निश्चित राशि का भुगतान किया जाता है, बाकी यह, मनी बैक पॉलिसी बंदोबस्ती की योजना वाली बीमा के समान हैं। जैसे की, यदि 20 साल की अवधि के लिए मनी-बैक पॉलिसी ली जाती है तो बीमा पॉलिसी अवधि के 5वें, 10वें और 15वें वर्ष के अंत में एक निश्चित राशि का भुगतान मिल सकता है, और इस बीमा पॉलिसी के पूरा होने पर, संचित बोनस के साथ पूरे लाभ का भुगतान नील जाता है।

Read Also  Insurance claim process in Hindi
5. यूनिट लिंक्ड बीमा योजना (ULIPs) –

इसमे भी बंदोबस्ती की योजना की तरह, प्रीमियम का एक निश्चित हिस्सा लाइफ कवर देने में जाता है और दूसरा हिस्सा रिटर्न कमाने के लिए बाजारों में लगाया जाता है। यह योजना, किसी एक उत्पाद में निवेश और बीमा के साथ-साथ जीवन सुरक्षा और कई तरह के जोखिम वाले फंडो में निवेश करके पूंजी से पूंजी कमाने का अवसर प्रदान करती हैं।

यूलिप योजना, मनी बॅक बीमा योजना की तरह काम करती है, और साथ में स्विचिंग की सुविधा यानी एक फंड से दूसरे में निवेश करने की सुविधा, भी प्रदान करती हैं।

सामान्य बीमा (General Insurance) क्या है?

सामान्य बीमा में, जीवन बीमा के विपरीत निर्जीव संपत्ति जैसे घर, वाहन, स्वास्थ्य, यात्रा, बाढ़, आग लगना, चोरी, सड़क दुर्घटना और मानव निर्मित आपदाओ की बीमा शामिल होती है।

1. होम बीमा (Home Insurance)
2. मोटर बीमा (Motar Insurance)
3. यात्रा बीमा (Travel Insurance)
4. स्वास्थ्य बीमा (Health Insurance)
1. होम बीमा – 

घर बीमा पॉलिसी, आपके घर और उसके सामान को किसी इंसान और प्राकृतिक आपदा के कारण से हुए नुकसान से बचाती है। कुछ होम इंश्योरेंस पॉलिसी, आपके घर के नवीकरण के दोरान आपको अस्थायी किराए के खर्च के लिए कवरेज देती हैं।

2. मोटर बीमा –

जैसा की नाम से ही पता चल रहा है यह बीमा वाहनो के लिए होती है जो वाहनों की दुर्घटना, वाहन की क्षति, वाहन की चोरी, वाहन के साथ तोड़-फोड़ आदि सब होने पर, आपको कवरेज प्रदान करती है।

यह बीमा दो तरहो से होती है, थर्ड पार्टी और व्यापक, जिसमे थर्ड पार्टी मोटर बीमा आपके वाहन के कारण हुई किसी के साथ दुर्घटना के मामले में, तीसरे पक्ष के नुकसान की देखभाल करता है। मोटर वाहन अधिनियम, 1988 के अनुसार, सड़क पर चलने वाले प्रत्येक वाहन के लिए थर्ड-पार्टी बीमा होना अनिवार्य है।

Read Also  Insurance claim process in Hindi

दूसरी ओर, व्यापक मोटर बीमा पॉलिसी, बाढ़, आग, दंगा, आदि के कारण होने वाले नुकसान पर, आपको तीसरे पक्ष के नुकसान और स्वयं के नुकसान दोनों से कवर करती है।

3. यात्रा बीमा – 

यदि आप विदेश यात्रा कर रहे हैं तो एक यात्रा बीमा पॉलिसी आपको सामान के नुकसान, उड़ान में हुई देरी और यात्रा रद्द होने के कारण होने वाले आपके नुकसान से बचाती है। कुछ मामलों में, यात्रा के दोरान आप अस्पताल में भर्ती होते हैं तो यात्रा बीमा के चलते आपको अस्पताल में बीमा कंपनी के द्वारा इलाज करवाया जाता है।

4. स्वास्थ्य बीमा – 

स्वास्थ्य बीमा किसी मेडिकल इमरजेंसी होने पर इससे होने वाले जेब खर्च से बचाता है। एक स्वास्थ्य बीमा योजना एक क्षतिपूर्ति योजना है जो अस्पताल में भर्ती होने पर होने वाले खर्च के लिए भुगतान करती है।

इस योजना में, पूरे परिवार की एक साथ बीमा पॉलिसी भी की जाती है जिससे परिवार के किसी भी सदस्य के इलाज के लिए कवरेज मिलती है। दूसरी ओर, गंभीर बीमारी की योजनाएं जो निश्चित लाभ वाली योजनाएं होती हैं जिससे किसी ख़ास तरह की बीमारी के निदान के लिए एक बड़ी राशि मिलती हैं।


जीवन के सभी पहलुओं को पूरे तरीके से कवर करने के लिए जीवन बीमा और सामान्य बीमा दोनों ही बहुत ज़रूरी है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This div height required for enabling the sticky sidebar