Insurance kya hota hai : भीमा कितने प्रकार के होते है

/
/
/
90 Views

इंश्योरेंस, बीमा, जीवन बीमा आदि शब्द आपने कभी ना कभी तो ज़रूर सुने होंगे, क्योकि आजकल टीवी, इंटरनेट सब जगह पर ज़्यादा विज्ञापन इंश्योरेंस के ही आते है, इंश्योरेंस क्या होता है? यदि आप नही जानते insurance kya hota hai तो इसके बारे में पूरी जानकारी आपके यहा पढ़ने को मिलेगी।

इंश्योरेंस से जुड़े हुए काफ़ी सवाल हमारे दिमाग़ में रहते है जैसे Insurance Kya hota hai, बीमा क्या है, इंश्योरेंस करवाने से क्या होता है, इंश्योरेंस कितने तरह का होता है, इंश्योरेंस कैसे लिया जाता है आदि सभी सवालो का जवाब Hindi mein पूरे विवरण के साथ इस ब्लॉग पोस्ट में दिया गया है।

इंश्योरेंस की परिभाषा — (Insurance kya hota hai)

insurance kya hota hai

इंश्योरेंस का हिन्दी मतलब बीमा है जो भविष्य में होने वाले किसी भी नुकसान या हानि से निपटने का ज़रिया है। कोई भी ये कभी भी नही जानता की कल क्या होने वाला है, बीमा के जरिये भविष्य में होने वाले संभावित नुकसान की भरपाई की जा सकती हैं।

बीमा वास्तव में बीमा करने वाली कंपनी और बीमा करवाने वाले व्यक्ति के बीच एक अनुबंध या कांट्रॅक्ट होता है जो भविष्य में किसी जोखिम से होने वाले नुकसान से बचाता है।

जब हम कोई एक बीमा खरीदते है तो हमको किसी निश्चित अमाउंट की किस्त को एक निश्चित समय पर भरना होता है या कई बार किसी योजना में एक ही बार मे पूरा पैसा भरना होता है जो की बीमा कंपनी के साथ लिखित कांट्रॅक्ट में विवरण किया होता है।

भविष्य मे जब कभी भी उस बीमा से सम्बंधित चीज़ में कोई नुकसान होता है तो उस नुकसान की भरपाई बीमा कंपनी को बीमा के लिखित कांट्रॅक्ट के हिसाब से करनी होती है।

Read Also  Insurance ke prakar - Insurance कितने प्रकार के होते है

इंश्योरेंस के प्रकार —

bima kya hota hai

इंश्योरेंस को आम तौर पर जीवित और निर्जीव चीज़ो के हिसाब से दो भागो में विभाजित किया गया है जिसमे Life Insurance यानी जीवन बीमा किसी जीवित व्यक्ति के लिए और General Insurance यानी साधारण बीमा को निर्जीव चीज़ो के लिए है।

जीवन बीमा (Life Insurance) – 

लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (LIC) का नाम तो आपने ज़रूर सुना होगा क्योकि यह सबसे पुरानी सरकारी बीमा कंपनी है जो कई योजनाओ के तहत जीवन बीमा करती है, इसके अलावा भी जीवन बीमा करवाने के लिए बहुत सारी कंपनियों मार्केट में मोजूद है, सबकी अलग – अलग जीवन बीमा योजनाए है।

आपको किस योजना के तहत जीवन बीमा करवानी चाहिए, यह बात आपको किसी बीमा एजेंट से सलाह करनी पड़ेगी, वही मोजूद समय की योजनाओ के हिसाब से और आपकी जेब की सहमति से एक बेहतर जीवन बीमा के बारे में आपको सलाह कर सकता है।

जीवन बीमा एक तरह की बचत है जिसे कोई व्यक्ति लेता है तो उसकी किसी दुर्घटना मे मौत होने पर, उसके परिवार के लोगो को बीमा कंपनी कुछ राशि या प्रीमियम देती है।

जीवन बीमा लेने वाले को कुछ अमाउंट एक नियत समय तक बीमा कंपनी मे जमा करना होता है, उससे उसको कितना प्रीमियम मिलेगा, यह बीमा की योजना पर निर्भर करता है।

जीवन बीमा में भी कई योजनाए होती है जैसे टर्म इंश्योरेंस, बंदोबस्ती की योजना, मनी-बैक पॉलिसी, यूनिट-लिंक्ड इंश्योरेंस प्लान, संपूर्ण जीवन बीमा आदि।

साधारण बीमा (General Insurance) – 

general insurance kya hota hai

किसी निर्जीव वस्तु के लिए करवाई जाने वाली बीमा, साधारण बीमा होती है जैसे होम बीमा, मोटर गाड़ी बीमा, यात्रा बीमा, स्वास्थ्य बीमा आदि।

Read Also  What is Mutual Fund/Funds in Hindi

सामान्य बीमा में बाढ़, आग, चोरी, दुर्घटना और मानव निर्मित आपदाएँ आदि सब के लिए भी बीमा सामिल होती है।

इसमे बीमा योजना का पूरा पेमेंट एक बार मे करना होता है जो की एक नियत समय के लिए होता है, यह समय समाप्त होने पर फिर से इस बीमा योजना को रिन्यू या दोबारा करना होता है।

आपके जीवन के सभी पहलुओं को व्यापक रूप से कवर करने के लिए जीवन और सामान्य बीमा दोनों की आवश्यकता होती है।

इंश्योरेंस कैसे ले —

इंश्योरेंस लेने के लिए ऐसे काफ़ी तरीके है जैसे की किसी बीमा कंपनी के बीमा एजेंट से बीमा करवाना, किसी बीमा कंपनी मे खुद जा कर बीमा करवाना, किसी बीमा कंपनी की वेबसाइट से ऑनलाइन बीमा करवाना, ऑनलाइन ब्रोकर वेबसाइट पर रिजिस्टर करके बीमा करवाना आदि।

ज़रूरत पड़ने पर इन सभी तरीक़ो से की गयी बीमा पॉलिसी को हम क्लेम कर सकते है यानी उस बीमा पॉलिसी से सम्बंधित कोई नुकसान होने पर, जिसके लिए हमने बीमा करवा के रखा है, बीमा कंपनी से बीमा के एवज में मिलने वाली राशि के लिए मांग कर सकते है।

इंश्योरेंस के फायदे —

आज हर कोई इंसान अपने और अपने प्रियजनो के जीवन को सुरक्षित रखने के लिए बीमा करवाता है, जीवन बीमा पॉलिसी एक संरक्षण प्रदान करती है, बीमा लेना एक तरह से बचत करने का एक बढ़िया तरीका है और आप अपनी बीमा पॉलिसी की गारंटी देकर किसी भी बॅंक से लोन लिए भी आवेदन कर सकते है।

वही सामान्य बीमा की बात करे तो यह एक तरह से वित्तीय सुरक्षा प्रदान करती है इसमे हम किसी चीज़ का बीमा करवा सकते है क्योकि आज किसी भी चीज़ का कोई भरोसा नही है, कभी भी कोई भी दुर्घटना हो सकती है इस बीमा के चलते हम आने वाली कोई भी समस्या को आसानी से नियंत्रण कर सकते है।

Read Also  Dhani One Freedom Card Kya Hai : Dhani One Freedom Card Apply Online

इंश्योरेंस के बारे में दी गयी जानकारी से आप सहमत हो और इंश्योरेंस जुड़े कोई सवाल आपके पास हो तो आप कॉमेंट करके अपनी प्रतिक्रिया दे सकते है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This div height required for enabling the sticky sidebar